18 June 2020

फर्जी शिक्षकों की जांच समिति में अब एडी बेसिक की जगह BSA को नामित करने का निर्देश दिया है

फर्जी शिक्षकों की जांच समिति में अब एडी बेसिक की जगह BSA को नामित करने का निर्देश दिया है


शिक्षा विभाग में अध्यापकों की फर्जी नियुक्तियों पर मुख्यमंत्री के सख्त रुख के बाद अब बेसिक शिक्षा विभाग ने भी इस मामले में कदम बढ़ा दिए हैं। फर्जी तरीके से शिक्षकों की नियुक्तियों की शिकायतों की जांच के लिए जिला स्तर पर गठित समिति के जांच कार्य में तेजी लाने के लिए शासन ने समिति में मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक (एडी बेसिक) की जगह अब जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) को नामित करने का निर्देश दिया है। अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार ने इस बारे में बुधवार को शासनादेश जारी कर दिया है।

शासन को प्रदेश के कई जिलों से परिषदीय विद्यालयों में फर्जी तरीके से शिक्षकों की नियुक्तियों की शिकायतें मिल रही थीं। इस पर तत्कालीन अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डॉ प्रभात कुमार ने 19 जुलाई 2018 को शासनादेश जारी करते हुए प्रदेश के सात जिलों फर्जी शिक्षकों की जांच के लिए जिलाधिकारियों को तीन सदस्यीय समिति गठित करने का निर्देश दिया था। अपर जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में गठित इस समिति में अपर पुलिस अधीक्षक और एडी बेसिक को सदस्य नामित किया गया था। अगले ही दिन यानी 20 जुलाई 2018 को उन्होंने प्रदेश के बाकी 68 जिलों में भी इसी तरह की समिति गठित करने का शासनादेश जारी किया था।

फर्जी शिक्षकों की जांच समिति में अब एडी बेसिक की जगह BSA को नामित करने का निर्देश दिया है Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news