11 June 2020

69000 SHIKSHAK BHARTI घोटाले में कई जगह पुलिस की छापेमारी, धांधली के मास्टरमाइंड पटेल पर कई घोटालों का शक

69000 SHIKSHAK BHARTI घोटाले में कई जगह पुलिस की छापेमारी, धांधली के मास्टरमाइंड पटेल पर कई घोटालों का शक

69000 सहायक शिक्षक भर्ती में नामजद आरोपी मायापति दुबे की तलाश में पुलिस ने भदोही के औराई, प्रतापगढ़ आदि जिलों में छापेमारी की है। मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही वह फरार है। मोबाइल ऑफ होने के कारण पुलिस उसे ट्रेस नहीं कर पा रही है। पुलिस ने उसके कुछ परिचितों और रिश्तदारों से भी पूछताछ की है। उनको चेतावनी दी गई है कि अगर किसी ने शरण दी उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।
इस शिक्षक भर्ती में प्रतापगढ़ के अभ्यर्थी राहुल सिंह ने डॉ कृष्ण लाल पटेल समेत आठ के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी जिसमें मायापति दुबे भी आरोपी है। पुलिस ने 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया लेकिन मायापति नहीं पकड़ा गया। पुलिस की एक टीम ने मायापति की औराई स्थित ससुराल में भी छापेमारी की लेकिन वहां भी उसकी कोई सुराग नहीं लगा। भर्ती में 150 में से 142 अंक पाने वाले अभ्यर्थी धर्मेंद्र पटेल ने पुलिस को बताया था कि वह मायापति की मदद से ही पास हुआ था। इस बीच, जेल भेजे गए डॉ कृष्ण लाल पटेल और लेखपाल संतोष के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए सोरांव पुलिस ने रिपोर्ट भेज दी है।


धांधली का मास्टरमाइंड डॉ कृष्ण लाल पटेल झांसी में तैनात था। सहायक शिक्षक भर्ती में उसका हाथ होने के खुलासे के बाद कॉलेज से पुलिस ने 14 लाख रुपये भी बरामद किए हैं। पहले भी वह 45 दिन जेल में बंद हो चुका है। प्रयागराज में तैनात लेखपाल संतोष के खिलाफ कार्रवाई के लिए डीएम को रिपोर्ट भेजी गई है। उसके पकड़े जाने के बाद उसकी नौकरी पर भी सवाल उठने लगे थे, क्योंकि आरोप लगा था लेखपाल भर्ती में भी डॉ केएल पटेल ने खेल किया था।

69000 SHIKSHAK BHARTI घोटाले में कई जगह पुलिस की छापेमारी, धांधली के मास्टरमाइंड पटेल पर कई घोटालों का शक Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news