Primary Ka Master: Nishtha Training Module: निष्ठा प्रशिक्षण के माड्यूल 7, 8 और 9 के ट्रेनिंग लिंक जारी, सभी प्रशिक्षण निर्धारित समयावधि पूर्ण करे, ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करें

Primary ka Master: अपने निष्ठा मॉड्यूल प्रशिक्षण की स्थिति NISHTHA DASHBOARD पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें और निम्न प्रक्रिया अपनाएं, डैशबोर्ड मे आपका नाम नही है तो करे ये काम

सभी प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं(जैसे-TET/CTET/TGT-PGT/ शिक्षक भर्ती...) के नोट्स के लिए यहाँ क्लिक करें

Primary Ka Master: NISHTHA TRAINING MODULE- 7 (विद्यालय आधारित आंकलन) प्रश्नोत्तरी व गतिविधि का हल देखने के लिए यहां क्लिक करें

Primary Ka Master: NISHTHA TRAINING MODULE- 8 (UP पर्यावरण अध्ययन का शिक्षाशास्त्र (U.P.) प्रश्नोत्तरी व गतिविधि का हल देखने के लिए यहां क्लिक करें

Primary Ka Master: NISHTHA TRAINING MODULE- 9 UP_गणित का शिक्षाशास्त्र (उत्तर प्रदेश) प्रश्नोत्तरी व गतिविधि का हल देखने के लिए यहां क्लिक करें

08 July 2020

PRIMARY KA MASTER: बेसिक शिक्षा विभाग के अपने ही फ़ैसलों पर उठ रहे सवाल : मोबाइल व टैबलेट के लिए बढ़ता जा रहा इंतजार!

PRIMARY KA MASTER: बेसिक शिक्षा विभाग के अपने ही फ़ैसलों पर उठ रहे सवाल : मोबाइल व टैबलेट के लिए बढ़ता जा रहा इंतजार!


बेसिक शिक्षा विभाग के अपने ही फ़ैसलों पर उठ रहे सवाल : मोबाइल व टैबलेट के लिए बढ़ता जा रहा इंतजार!
परिषदीय स्कूलों एवं अपनी मॉनीटरिंग टीम को पूरी तरह डिजीटल करने का फैसला तो कर लिया लेकिन अब तक शिक्षकों व दूसरे जिम्मेदारों के हाथों में मोबाइल व टेबलेट नहीं पकड़ा सका। शासन ने पिछले वर्ष सभी खंड शिक्षा अधिकारियों, एबीआरसी एवं परिषदीय स्कूलों के हेडमास्टर को डाटा प्लान सहित मोबाइल टेबलेट उपलब्ध कराने का फैसला किया था। इसके अलावा उच्च प्राथमिक स्कूलों को कंप्यूटर हार्डवेयर एवं अन्य डिजीटल सामग्री उपलब्ध कराने पर भी हामी भर गई थी।

बेसिक शिक्षा विभाग को गत वर्ष सौगात देते हुए इंटीग्रेटेड स्कीम फॉर स्कूली शिक्षा के अन्तर्गत आईसीटी एवं डिजीटल इनिशिएटिव प्रोग्राम के अन्तर्गत उच्च प्राथमिक विद्यालयों के लिए कंप्यूटर हार्डवेयर एवं जनपद स्तर  पर मॉनीटरिंग यूनिट, बीईओ, एनआरसी एवं प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों के हेडमास्टरों के लिए डाटा प्लान सहित मोबाइल टेबलेट उपलब्ध कराने का फैसला किया था। शास ने बेसिक शिक्षा विभाग के प्रस्ताव

को हरी झंडी दे दी थी। शासन ने प्रदेश स्तर पर कंट्रोल रूम, जनपद स्तर पर मॉनीटरिंग यूनिट, 880 बीई ओ, 4400 एनआरसी एवं 158837 परिषदीय प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक स्कूलों के हेडमास्टरों को मोबाइल टेबलेट दिए जाने के लिए सर्व शिक्षा अभियान की वार्षिक कार्ययोजना एवं चालू वित्तीय वर्ष में योजना के अन्तर्गत 15900 लाख रुपए की धनराशि का प्रावधान भी किया था। इसके बावजूद अब तक हेडमास्टरों के हाथों में मोबइल या टेबलेट नहीं आ सके।जबकि इस बीच बेसिक शिक्षा विभाग ने डिजीटाइजेशन की तरफ पूरी मजबूती से कदम बढ़ा दिए हैं। अब तक विभाग हेडमास्टरों व शिक्षकों के मोबाइल से ही विभागीय कार्य करा रहा है।

PRIMARY KA MASTER: बेसिक शिक्षा विभाग के अपने ही फ़ैसलों पर उठ रहे सवाल : मोबाइल व टैबलेट के लिए बढ़ता जा रहा इंतजार! Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news