Primary Ka Master: Nishtha Training Module: निष्ठा प्रशिक्षण के माड्यूल 7, 8 और 9 के ट्रेनिंग लिंक जारी, सभी प्रशिक्षण निर्धारित समयावधि पूर्ण करे, ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करें

Primary ka Master: अपने निष्ठा मॉड्यूल प्रशिक्षण की स्थिति NISHTHA DASHBOARD पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें और निम्न प्रक्रिया अपनाएं, डैशबोर्ड मे आपका नाम नही है तो करे ये काम

सभी प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं(जैसे-TET/CTET/TGT-PGT/ शिक्षक भर्ती...) के नोट्स के लिए यहाँ क्लिक करें

Primary Ka Master: NISHTHA TRAINING MODULE- 7 (विद्यालय आधारित आंकलन) प्रश्नोत्तरी व गतिविधि का हल देखने के लिए यहां क्लिक करें

Primary Ka Master: NISHTHA TRAINING MODULE- 8 (UP पर्यावरण अध्ययन का शिक्षाशास्त्र (U.P.) प्रश्नोत्तरी व गतिविधि का हल देखने के लिए यहां क्लिक करें

Primary Ka Master: NISHTHA TRAINING MODULE- 9 UP_गणित का शिक्षाशास्त्र (उत्तर प्रदेश) प्रश्नोत्तरी व गतिविधि का हल देखने के लिए यहां क्लिक करें

07 July 2020

PRIMARY KA MASTER: लाइब्रेरी खिड़की एप को लेकर सुस्त है महकमा: परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों को नहीं है एप की जानकारी, विभागीय निर्देश का इंतजार

PRIMARY KA MASTER: लाइब्रेरी खिड़की एप को लेकर सुस्त है महकमा: परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों को नहीं है एप की जानकारी, विभागीय निर्देश का इंतजार

गोरखपुर: जनपद में लाइब्रेरी खिड़की एप को लेकर महकमा सुरत है। जिले के परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक अभा भी इससे अमनभिज्ञ हैं। उनका कहना है कि अभी तक इसको लेकर काई दिशा-निर्देश नहीं मिला है। प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग में प्राथमिक और उच्च प्राथमिक कक्षा के छात्रों के लिए ई-मैगजीन की अवधारणा लाने के लिए टाटा ट्रस्ट ने करार किया है। लाइब्रेरी खिड़की नाम की इस ई-मैगजीन में तीन से 14 साल की उम्र के बच्चों के लिए कविता और कहानियों के रूप में सामग्री दी गई है। ई-लर्निंग की यह सामग्री टेक्स्ट, ऑडियो

और वीडियो के रूप में उपलब्ध होगी। पिपराइच के प्राथमिक विद्यालय आराजी बसड़ीला के प्रधानाध्यापक आशुतोष कुमार सिंह ने बताया कि अर्भी तक एप को लेकर विभाग से कोई निर्देश नहीं मिला है। वहाँ जूनियर हाईस्कूल उसका पिंपराइच के सहायक अध्यापक प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि इस एप के विषय में हमें कोई जानकारी नहीं है। विभाग निर्देश देगा तो इसे अमल में लाया जाएगा। बीएसए भूपेंद्र नारायण सिंह ने कहा कि एप को लेकर जल्द ही स्कूलों को निर्देश दिए जाएंगे, ताकि इसका उपयोग कर शिक्षक अधिक बच्चों को लाभान्वित कर सकें।

PRIMARY KA MASTER: लाइब्रेरी खिड़की एप को लेकर सुस्त है महकमा: परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों को नहीं है एप की जानकारी, विभागीय निर्देश का इंतजार Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news