11 June 2020

शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की जांच में आई तेजी, SSA कर रहा है मॉनिटरिंग, 15 से 18 जून तक दस्तावेजों के सत्यापन का काम किया जाएगा।

शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की जांच में आई तेजी, SSA कर रहा है मॉनिटरिंग, 15 से 18 जून तक दस्तावेजों के सत्यापन का काम किया जाएगा।


अनामिका शुक्ला प्रकरण में सभी जिलों में प्रमाणपत्रों की जांच शुरू हो गई है। इसकी मॉनिटरिंग प्रतिदिन सर्व शिक्षा अभियान कर रहा है। शिक्षकों से उनके मूल अभिलेख मंगाए जा रहे हैं। जो शिक्षक इसमें सहयोग नहीं करेंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। दूसरी तरफ, गोण्डा में मिली अनामिका शुक्ला के प्रमाणपत्रों का मिलान फर्जी तौर पर नियुक्त शिक्षिकाओं के प्रमाणपत्रों से करवाया जा रहा है।

गोण्डा पुलिस ने भी शुरू की जांच
सूत्रों के मुताबिक, तीन जिलों में उसी अनामिका शुक्ला के प्रमाणपत्रों का इस्तेमाल हुआ था जिसने गोण्डा में शपथपत्र दाखिल किया है। बाकी जिलों में भी मिलान किया जा रहा है। वहीं मूल अनामिका शुक्ला की इसमें संलिप्तता है या नहीं, इसकी भी जांच हो रही है। प्रमाणपत्रों की जांच करवाने जो अध्यापक नहीं जाएंगे, वे शिक्षक राडार पर होंगे और उनके खिलाफ पूरी जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

लखनऊ में दस्तावेजों का 15 जून सत्यापन होगा: लखनऊ शहर के कस्तूरबा विद्यालय में ‘अनामिका' की जांच के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने टीम बनाई है। यह कस्तूरबा विद्यालयों की शिक्षिकाओं के दस्तावेजों की जांच करेगी। 15 से 18 जून तक दस्तावेजों के सत्यापन का काम किया जाएगा।



रायबरेली। बछरावां कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में नियुक्त विज्ञान शिक्षिका अनामिका शुक्ला मोबाइल स्विच ऑफ करके भूमिगत है। वह कहां की रहने वाली है और कहां है, इसके बारे में किसी को कोई जानकारी नहीं है। बीएसए ने बछरावां थाने में उसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई है।

अम्बेडकरनगर। कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय रामनगर में एक और अनामिका शुक्ला विज्ञान विषय की पूर्णकालिक शिक्षिका रही है। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज है। फर्जीवाड़े से नौकरी करने वाली शिक्षिका फरार है। फर्जीवाड़े का खुलासा होने के आलापुर थाने में ्रउसके खिलाफ केस दर्ज है और उसको भुगतान किए गए 2.31 लाख रुपये की रिकवरी का नोटिस जारी हुआ है।

जांच की अपनी प्रक्रिया होती है। पुलिस की जांच के बाद ही कुछ कह पाना संभव है। हम सभी जिलों से पुलिस की रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। गोण्डा में डीएम व एसएसपी की प्रारंभिक रिपोर्ट मिल गई है। -विजय किरन आनंद, महानिदेशक, बेसिक शिक्षा

गोण्डा। नगर कोतवाली पुलिस ने भी अनामिका शुक्ला प्रकरण में जांच शुरू कर दी है। नगर कोतवाल आलोक राव ने बताया कि जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस अनामिका शुक्ला के मायके रुपईडीह ब्लॉक के भुलईडीह गांव गई मगर उसकी मुलाकात अनामिका से नहीं हो सकी।

शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की जांच में आई तेजी, SSA कर रहा है मॉनिटरिंग, 15 से 18 जून तक दस्तावेजों के सत्यापन का काम किया जाएगा। Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news