17 June 2020

कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों की शिक्षिकाओं और कर्मचारियों के दस्तावेजों की जांच मंगलवार से शुरू हो गई

कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों की शिक्षिकाओं और कर्मचारियों के दस्तावेजों की जांच मंगलवार से शुरू हो गई


पहले दिन जिले के पांच ब्लॉकों के विद्यालयों के स्टॉफ के मूल और फोटो स्टेट दस्तावेजों का सत्यापन कमेटी ने किया। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुमार कुशवाहा ने इसके लिए चार सदस्यीय कमेटी गठित की हैं।कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय (केजीबीवी) की कथित विज्ञान शिक्षिका अनामिका शुक्ला के फर्जी निवास प्रमाण पत्र लगाकर नौकरी हासिल करने का मामला सुíखयों में आने के बाद राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने केजीबीवी की शिक्षिकाओं और कर्मचारियों के दस्तावेजों का सत्यापन करने के निर्देश दिए थे। इसी क्रम में 16 जून तक जिले के कस्तूरबा विद्यालयों के स्टॉफ से मूल और फोटो स्टेट दस्तावेज बीएसए कार्यालय में जमा करने के निर्देश दिए गए थे।

 मंगलवार को कमेटी ने कौड़िहार, मऊआइमा, होलागढ़, बहरिया और फूलपुर ब्लॉक के विद्यालयों की शिक्षिकाओं और कर्मचारियों के दस्तावेजों की जांच शुरू की। यह प्रक्रिया चार दिन यानी 19 जून तक चलेगी। 17 को सोरांव, धनूपुर, प्रतापपुर, हंडिया, सैदाबाद, 18 को बहादुरपुर, करछना, मांडा, मेजा, उरुवा और आखिरी दिन कोरांव, शंकरगढ़, कौंधियारा, जसरा, चाका ब्लॉक के कस्तूरबा विद्यालयों के स्टॉफ के दस्तावेजों की जांच होगी। कमेटी में खंड शिक्षाधिकारी (बीईओ) मुख्यालय अजरुन सिंह, बीईओ करछना संतोष कुमार श्रीवास्तव, बीईओ नगर सुमन केसरवानी और बीईओ शंकरगढ़ प्रीति सिंह शामिल हैं। जिला समंवयक (बालिका शिक्षा) ताज मोहम्मद ने बताया कि सभी के निवास, शैक्षिक प्रमाण पत्र और आधार कार्ड की जांच शुरू हो गई है।

कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों की शिक्षिकाओं और कर्मचारियों के दस्तावेजों की जांच मंगलवार से शुरू हो गई Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news