10 June 2020

डा. द्विवेदी ने कहा कि हमने प्रेरणा फ्रेमवर्क लागू किया है इसमें विभाग के सभी शिक्षकों व कर्मचारियों का ब्यौरा दर्ज है, प्रेरणा फ्रेमवर्क से पकड़ में आया फर्जी शिक्षिकाओं मामला

डा. द्विवेदी ने कहा कि हमने प्रेरणा फ्रेमवर्क लागू किया है इसमें विभाग के सभी शिक्षकों व कर्मचारियों का ब्यौरा दर्ज है, प्रेरणा फ्रेमवर्क से पकड़ में आया फर्जी शिक्षिकाओं मामला

बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डा. सतीश द्विवेदी ने कहा कि 11 मार्च को अनामिका शुक्ला प्रकरण की जांच के आदेश हुए। जांच में इनका नाम 9 जगह आया था। बागपत वाली शिक्षिका फरार हो गईं और बाकी जगहों पर फोन नंबर बंद हो गए। लॉकडाउन में जांच पूरी नहीं हो पाई। 26 मई को हमने फिर आदेश दिए।

डा. द्विवेदी ने कहा कि हमने प्रेरणा फ्रेमवर्क लागू किया है इसमें विभाग के सभी शिक्षकों व कर्मचारियों का ब्यौरा दर्ज है। इसे हमने केजीबीवी में भी फरवरी में लागू किया है। इसमें कहीं भी दूसरी जगह फीडिंग होगी तो पकड़ में आ जाएगा। इसीके मार्फत यह मामला पकड़ में आया है। बड़ौत के बागपत में जांच हुई तो सामने आया कि इस नाम की शिक्षिका वाराणसी, कासगंज, अलीगढ़, रायबरेली, प्रयागराज, सहारनपुर, अमेठी और अम्बेडकर नगर में भी हैं।
जिलों में एफआरईआर दर्ज की जा रही है। वहां पर पुलिस और जिलाधिकारी कार्रवाई कर रहे हैं। प्रमाणपत्रों के मिलान और जांच पूरी होने के बाद ही उत्तरदायित्व तय किया जाएगा। विजय किरन आनंद, महानिदेशक, बेसिक शिक्षा

डा. द्विवेदी ने कहा कि हमने प्रेरणा फ्रेमवर्क लागू किया है इसमें विभाग के सभी शिक्षकों व कर्मचारियों का ब्यौरा दर्ज है, प्रेरणा फ्रेमवर्क से पकड़ में आया फर्जी शिक्षिकाओं मामला Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news