24 July 2020

69000 SHIKSHAK BHARTI हाल_ए_दिल्ली, शिवेंद्र प्रताप सिंह की कलम से

69000 SHIKSHAK BHARTI हाल_ए_दिल्ली, शिवेंद्र प्रताप सिंह की कलम से


69000शिक्षकभर्ती #हाल_ए_दिल्ली 🙏🚩🚩

🙏सभी साथियों को सँयुक्त लीगल टीम का नमस्कार🙏

🔱1 मिनट का समय निकालकर पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें🔱

⚛️सँयुक्त लीगल टीम के समस्त याचियों की IA सर्वोच्च न्यायालय में दाखिल कर दी गई है जिसका विवरण याची समूह में दे दिया गया है क्योंकि यदि याचियों के नाम कोर्ट में न जाते तो प्रभावितों की संख्या का अनुमान कोर्ट को कैसे लगता । जल्द ही कोर्ट कॉपी भी आपकी आप सबको उपलब्ध करा दी जाएगी ।।

⚛️ टीम को देर रात तक लगभग 1 लाख के फण्ड की आवश्यकता थी जिसमे सार्वजनिक अपील करने के बाद में लगभग 40 से 50 हजार का सहयोग प्राप्त हुआ है लगभग 50-55 हजार की राशि शेष है । के वी विश्वनाथन सर का केस में होना केस के दृष्टिकोण से अत्यन्त महत्वपूर्ण है टीम बार बार आपसे कह रही है कि जैसे ही टीम के पास इस 24 जुलाई की सुनवाई का फण्ड पूर्ण होगा टीम स्वयं आपको सूचित कर देगी ।।

⚛️ आज बात 69000 शिक्षक भर्ती की सभी वर्तमान परिस्थितियों की करेंगे💯🙋🏻‍♂️

⚛️आप सभी को विदित है कि सरकार की पैरवी इतनी लचर है कि हम सभी के भरपूर प्रयास करने के बावजूद भी सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता जी की अनुपस्थिति सुप्रीम कोर्ट में लगातार बनी हुई है इसलिए जस सुनवाई में टीम ने एक कदम आगे बढ़ाते हुए प्रयास किया है ASG MAM तक भी प्रॉपर ब्रीफ रखवाया जाए आपको टीम की दिल्ली में।रहकर की जा रही मेहनत समय से देखने को मिल जाएगी ।।

पर केवल सरकार के भरोसे अगर हम सब कुछ छोड़ देते हैं तो यह हमारी अपने भविष्य के लिए एक गैर जिम्मेदाराना हरकत होगी।

💰 _अब बात करते हैं #टीम_के_फंड की_ 💰

दोस्तो किसी भी टीम पर आरोप-प्रत्यारोप और टीका टिप्पणी करने की सँयुक्त लीगल टीम की आदत बिल्कुल नहीं है और प्रयास रहता है टीम निर्विवादित रहे हालांकि टीम के कुछ सदस्य निजी पेज पर अपनी बात रख देते हैं पर टीम उनपर भी सख्ती रखती है और प्रयास रहता है व आगे भी रहेगा आपस मे भिड़ंत न ही हो ।

जिस टीम के पास अगली सुनवाईयों के लिए पर्याप्त फंड है उनसे उम्मीद है कि वह सुप्रीम कोर्ट में पूरी ईमानदारी से हर संभव प्रयास करेंगे ।

लेकिन जिस टीम के पास अगली सुनवाई के लिए सीनियर अधिवक्ता खड़ा करने के लिए फंड के पर्याप्त संसाधन नहीं बचे हैं उसके लिए हमें एकजुट होकर जिम्मेदारी के साथ सहयोग करना ही होगा।

मैं आपसे पूरे विश्वास के साथ बोल रहा हूं कि आपकी #संयुक्त_लीगल_टीम_69000 पूरी ईमानदारी और निष्ठा से सुप्रीम कोर्ट में बेहतर पैरवी हेतु प्रभावी कार्यशैली के साथ मेहनत कर रही है। वहीं संयुक्त लीगल टीम द्वारा केस में जोड़े गए अधिवक्ता के वी विश्वनाथन जी बहुत ही कर्तव्यनिष्ठ हैं, जो कि ईश्वर की कृपा से सकारात्मक परिणाम के लिए प्रभावी होंगे।

👨‍✈️ _आओ अब बात कर लेते हैं देश और प्रदेश में जॉब ओरियंटेशन की_ 👩‍✈️

दोस्तो एक बात सोचिए कि क्या कोई नई जॉब देश और प्रदेश में इस साल 2020 में या फिर अगले साल 2021 के मध्य तक सृजित होने की उम्मीद है ??

अगर इस सवाल का जवाब आप सभी के पास *ना* में हैं, तो दोस्तो ऐसे समय में एक मात्र विकल्प बचता है हमारे पास कि 69000 शिक्षक भर्ती में हम सभी अपना यथासंभव तन, मन, धन समर्पित कर भरपूर प्रयास करें।

अगर नई जॉब की निकलने के बाद हम उसका फॉर्म भी भरते हैं तो ₹1000, ₹2000 तो उसमें भी खर्च कर देते हैं।

⚛️तो एक बात गंभीरता से अवश्य सोचना कि इस अंतिम पड़ाव में हम अपनी जॉब के लिए एक अंतिम प्रयास ₹500, ₹1000, ₹2000 देकर क्यों ना करें ??

इसीलिए ₹200, ₹500, ₹1000 का मोह त्याग दो दोस्तो क्योंकि यह समय बार-बार लौटकर नहीं आएगा ।

आशा करता हूं कि आपको मेरी बात समझ में अवश्य ही आई होगी और आप अपनी जिम्मेदारी समझकर सहयोग के लिए अवश्य ही आगे आएंगे।

★साभार लेख :- चंद्रगोपाल गौतम मथुरा जिला प्रभारी★

#सँयुक्तलीगलटीम


69000 SHIKSHAK BHARTI हाल_ए_दिल्ली, शिवेंद्र प्रताप सिंह की कलम से Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news