Latest Updates|Recent Posts👇

22 September 2022

स्कूलों को निपुण विद्यालय के रूप में विकसित करने पर जोर

स्कूलों को निपुण विद्यालय के रूप में विकसित करने पर जोर

 पडरौना जनपद के खंड शिक्षाधिकारियों, जिला समन्वयकों की शुक्रवार को एक दिवसीय कार्यशाला जिला पंचायत कार्यालय के सभागार में हुई। इसमें स्कूलों को निपुण विद्यालय के रूप में विकसित करने पर जोर दिया गया।

 


कार्यशाला को संबोधित करते हुए डायट के प्राचार्य अमित कुमार सिंह ने कहा कि शिक्षकों को प्रोत्साहित कर उन्हें लक्ष्य आवंटित करते हुए योजनाबद्ध तरीके से मार्च 2023 तक जनपद के सभी स्कूलों को निपुण बनाया जा सकता है। निपुण भारत मिशन को जन आंदोलन बनाना होगा। दीक्षा एप और रोड़  अलांग एप के उपयोग को बढ़ावा देना होगा।

उन्होंने सभी बीईओ को शिक्षक संकुल की बैठक में प्रतिभाग करने के लिए निर्देशित भी किया। जिला समन्वयक प्रशिक्षण सत्येंद्र कुमार मौर्या ने निपुण भारत मिशन के अंतर्गत जनपद की प्रगति पर विचार व्यक्त किए। संचालन एसआरजी रामप्रकाश पांडेय ने किया।

इस दौरान बीईओ अजय कुमार तिवारी, सत्येंद्र कुमार पांडेय, डीएन चंद देव मुनि वर्मा, जय प्रकाश मौर्य, उदय शंकर राय, अनूप तिवारी नागेश्वर दुब मौजूद रहे।
Primary Ka Master, Shikshamitra, Uptet Latest News, Basic Shiksha News, Updatemarts, Uptet News, Primarykamaster, 69000 Shikshak Bharti, Basic Shiksha Parishad, primary ka master current news, uptet, up basic parishad, up ka master

स्कूलों को निपुण विद्यालय के रूप में विकसित करने पर जोर Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news