14 January 2021

लखनऊ समेत उत्तर प्रदेश के बीएड कॉलेजों में नए सत्र 2021-22 के लिए प्रवेश परीक्षा अप्रैल माह में कराई जा सकती है

 लखनऊ समेत उत्तर प्रदेश के बीएड कॉलेजों में नए सत्र 2021-22 के लिए प्रवेश परीक्षा अप्रैल माह में कराई जा सकती है

विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से प्रस्तावित कार्यक्रम तैयार किया गया है। इसके मुताबिक 15 जुलाई तक अगला सत्र शुरू करने की योजना बनाई जा रही है। यह प्रस्तावित कार्यक्रम है। इस पर शासन की मुहर बाकी है। उधर, कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय ने बताया कि बीएड 2021 की परीक्षा कराने की जिम्मेदारी भी शिक्षाशास्त्र विभाग की प्रो. अमिता बाजपेयी को सौंपी गई है।
यह है प्रस्तावित कार्यक्रम:
शासन ने वर्ष 2021 की प्रवेश परीक्षा कराने की जिम्मेदारी लविवि को सौंपी है।
सोमवार को इसका आदेश जारी किया था। इसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से तैयारी शुरू कर दी गई।
    
कार्यक्रम के तहत 15 अप्रैल तक प्रवेश परीक्षा हो जाएगी। 10 से 15 मई तक परिणाम आ जाएंगे। जून के अंतिम सप्ताह तक काउंसलिंग हो जाएगी। 



आर्यकुल कॉलेज में बीएड का सत्र शुरू
बिजनौर स्थित आर्यकुल कॉलेज ऑफ एजुकेशन लखनऊ में बीएड के नए सत्र  2020- 21 की शुरुआत की गई। कोरोना से सावधानी को ध्यान में रखते हुए सामाजिक दूरी और मास्क के उपयोग के साथ ओरिएंटेशन  हुआ।

पहले की अपेक्षा सीटें बढ़ने का अनुमान
एलयू के कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय के मुताबिक पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष और अच्छा कार्य एलयू की ओर से किया जाएगा। साथ ही टेक्नोलॉजी और स्ट्रेटजी को भी और अधिक मजबूत बनाया जाएगा। बता दें कि लखनऊ विश्वविद्यालय की ओर से गत वर्ष 2020 में अगस्त में संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड-2020-22 प्रवेश प्रक्रिया शुरु हुई थी और 31दिसंबर को समाप्त हो गई है। गत वर्ष प्रदेश भर के बीएड कॉलेज में 60,792 सीटें खाली रह गई हैं। जिसमे 2,44,701 में से सिर्फ 1,83,909 सीट ही भर पाई थी। हालांकि साल 2019 के आंकड़े के मुताबिक एक लाख से अधिक सीटें खाली रह गई थी। 


लखनऊ समेत उत्तर प्रदेश के बीएड कॉलेजों में नए सत्र 2021-22 के लिए प्रवेश परीक्षा अप्रैल माह में कराई जा सकती है Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news