17 September 2020

गोण्डा : NIC में थूकने पर 12 खंड शिक्षा अधिकारी फंसे, एक शिक्षाधिकारी की करनी से विभाग हुआ शर्मिंदा, उन्होंने मीटिंग में आए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों पर 500-500 रुपये का जुर्माना लगा दिया है

गोण्डा : NIC में थूकने पर 12 खंड शिक्षा अधिकारी फंसे, एक शिक्षाधिकारी की करनी से विभाग हुआ शर्मिंदा, उन्होंने मीटिंग में आए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों पर 500-500 रुपये का जुर्माना लगा दिया है

गोंडा। बेसिक शिक्षा विभाग मंगलवार को एक खंड शिक्षा अधिकारी की करतूत से शर्मसार हो गया। एनआईसी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान वहां पर पान मसाला खाकर किसी शिक्षा अफसर ने जगह-जगह थूक दिया। एनआईसी के प्रभारी ने इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी। जिलाधिकारी डॉ. नितिन बसंल ने इस तरह की हरकत को गंभीरता से लिया और कार्रवाई के निर्देश बीएसए को दिए। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ. इन्द्रजीत प्रजापति ने दुख जताया और कहा कि ऐसी हरकत से वह शर्मिंदा हैं। उन्होंने मीटिंग में आए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों पर 500-500 रुपये का जुर्माना लगा दिया है। इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी है।

खंड शिक्षा अधिकारियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एनआईसी में थी, जहां बीएसए भी मौजूद रहे। एनआईसी के भीतर ही किसी एक खंड शिक्षा अधिकारी ने पान मसाला खाकर थूक दिया, यहीं नही एक गुटखे का रैपर भी पड़ा मिला। ऐसे में माना जा रहा है कि गुटखा खाया और फिर थूका। वैसे तो पान मसाला खाना मना है लेकिन कोविड को देखते हुए थूकने पर ही मनाही है कि यहां वहां कोई न थूके। इसके बावजूद शिक्षा अफसर की ऐसी करतूत शर्मिंदा करने वाली रही। इसके पहले भी एक घटना हो चुकी है। फिलहाल किसी एक के खता की सजा अन्य शिक्षा अफसरों को भी मिली है। सभी पर जुर्माना लगा है और जवाब तलब हुआ है। जिलाधिकारी ने इस मामले में कड़े तेवर अपनाए हैं।

गोण्डा : NIC में थूकने पर 12 खंड शिक्षा अधिकारी फंसे, एक शिक्षाधिकारी की करनी से विभाग हुआ शर्मिंदा, उन्होंने मीटिंग में आए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों पर 500-500 रुपये का जुर्माना लगा दिया है Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news