10 October 2019

3137 स्कूलों की मरम्मत पर खर्च दो करोड़ की होगी जांच

3137 स्कूलों की मरम्मत पर खर्च दो करोड़ की होगी जांच

गोंडा : परिषदीय स्कूलों में शिक्षा के साथ ही भौतिक संसाधन को बेहतर करने पर जोर दिया जा रहा है। भवन की मरम्मत के साथ ही बिजली, पेयजल आदि पर दो करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। विद्यालय प्रबंध समिति के खातों में धनराशि भेजी गई थी। इसमें गड़बड़ी की आशंका से अब जांच कराई जाएगी। समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक ने डीएम से जिला स्तरीय कमेटी से स्थलीय सत्यापन कराने को कहा है।
जिले में 2234 प्राथमिक व 903 उच्च प्राथमिक विद्यालय संचालित हैं। शासन ने इनकी मरम्मत, अतिरिक्त कक्षाकक्ष निर्माण, बालक व बालिकाओं के लिए शौचालय, चहारदीवारी, फर्नीचर, विद्युतीकरण व विद्यालय विकास अनुदान मद में रुपये आवंटित किए थे। दावा किया जा रहा है कि सभी कार्य कराए गए हैं लेकिन, कुछ स्कूलों से अभी तक उपभोग प्रमाण पत्र उपलब्ध नहीं कराया गया है। ऐसे में कार्यों पर सवाल खड़े हो रहे हैं। इसके अलावा गुणवत्ता को लेकर भी कई तरह की बातें सामने आ रही हैं। इसको लेकर शासन ने विभाग के साथ ही अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों से संयुक्त जांच कराने की योजना बनाई है। जिलाधिकारी को कमेटी बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। यह टीम कार्यों का सत्यापन करेगी। प्रमुख रूप से आवंटित धनराशि के सापेक्ष खर्च, गुणवत्ता, स्थल, कार्य पर खर्च किए धन की पड़ताल करेगी। सत्यापन आख्या राज्य परियोजना कार्यालय को भेजी जाएगी। अधिकारियों ने कमेटी गठन की कवायद शुरू कर दी है। जल्द ही टीमें विद्यालयों में पहुंचकर रिपोर्ट तैयार करेंगी। आशंका है कि कतिपय विद्यालयों में बिना काम कराए ही भुगतान करा दिया गया है। फिलहाल सही स्थिति जांच के बाद ही सामने आएगी।

3137 स्कूलों की मरम्मत पर खर्च दो करोड़ की होगी जांच Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news