08 October 2019

पहले चरण में 250 सरकारी विद्यालय होंगे फाइव स्टार

पहले चरण में 250 सरकारी विद्यालय होंगे फाइव स्टार

वाराणसी : परिषदीय विद्यालयों में प्रशिक्षित व योग्य अध्यापकों के बावजूद छात्रसंख्या कम हो रही है। इसका मुख्य कारण सरकारी विद्यालयों का परिवेश बताया जा रहा है। तमाम अभिभावक अपने बच्चों का सरकारी विद्यालयों में नामांकन कराने से कतरा रहे हैं। इसे देखते हुए बेसिक शिक्षा विभाग ने आपरेशन कायाकल्प के तहत विद्यालयों का भौतिक परिवेश बदलने का संकल्प लिया है। प्रथम चरण में जनपद के 250 विद्यालयों को फाइव स्टार रैंक की तरह मूर्त रूप दिया जाएगा।
आपरेशन कायाकल्प के तहत परिषदीय विद्यालयों के फर्शो का मरम्मत कराने, मल्टीपल हैंडवाश, वाशबेसिन चहारदीवारी, शौचालय, पाथ-वे सहित अन्य कार्य ग्राम पंचायत स्तर से कराए जाएंगे। इस संबंध में मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) गौरांग राठी की ओर से सभी संबंधित ब्लाकों के ग्राम प्रधान, पंचायत सेकेट्री व हेडमास्टर को पत्र भेजा जा रहा है। इसमें कहा गया है कि देश का भविष्य विद्यालयों में पुष्पित व पल्लवित हो रहा है।

विद्यालयों में अध्ययनरत छात्रों में अपार सकारात्मक ऊर्जा व क्षमता विद्यमान है। वहीं शैक्षणिक सुधार के लिए विद्यालयों का भौतिक परिवेश का विशेष महत्व है। ऐसे में सुधार के लिए अनेक कार्य कराए गए हैं। वहीं फाइव स्टार रैंक के लिए कई कार्य कराए जाने हैं। यह कार्य 14वें वित्त आयोग की धनराशि से होना है।

पहले चरण में 250 सरकारी विद्यालय होंगे फाइव स्टार Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news