10 August 2019

दहशत में अभिभावक, बच्चों को नहीं भेजा स्कूल, दुर्घटना का कारण बन सकता प्राथमिक विद्यालय रंजीतपुर परिसर में स्थित जजर्र भवन

दहशत में अभिभावक, बच्चों को नहीं भेजा स्कूल, दुर्घटना का कारण बन सकता प्राथमिक विद्यालय रंजीतपुर परिसर में स्थित जजर्र भवन

मसकनवा (गोंडा) : प्राथमिक विद्यालय दरियापुर की छत का प्लास्टर गिरने के बाद स्कूल का माहौल बदल गया है। जहां कभी बच्चों की चहल पहल रहती थी, वहां शुक्रवार को कोई पढ़ने नहीं आया। अभिभावकों ने बच्चों के स्कूल जाने पर रोक लगा दी है। हालांकि, अध्यापकों ने प्रयास किया, जिस पर छह बच्चे स्कूल आए। उनको बाहर ही बैठाया गया। दोपहर में विधायक प्रभात वर्मा पंहुचे। घटना स्थल का मुआयना करने के साथ ही विस्तृत जानकारी ली। बताया गया कि यहां 54 छात्रों का पंजीकरण है, जिसमें छह छात्र ही मौजूद मिले। अध्यापक रामअभिलाष वर्मा ने बताया कि अभिभावक बच्चों को भेजने के लिए तैयार नहीं हैं।

छपिया की घटना के बाद गहरी नींद से जागा शिक्षा विभाग, जर्जर भवनों की बन रही सूची

विद्यालयों के भवन जर्जर, हादसे की आशंका प्रबल

पुलिस की गतिविधियों से रूबरू होंगे परिषदीय विद्यालयों के छात्र

शिक्षकों को स्कूलों में विभिन्न गतिविधियां कराने के निर्देश दिए गए हैं। छात्रों को भ्रमण कराने को कहा गया है। जिला समन्वयक बालिका शिक्षा को विशेष रूप से सहयोग करने की जिम्मेदारी दी गई है।

दहशत में अभिभावक, बच्चों को नहीं भेजा स्कूल, दुर्घटना का कारण बन सकता प्राथमिक विद्यालय रंजीतपुर परिसर में स्थित जजर्र भवन Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news