15 August 2019

अध्यापक पुरस्कार के पैमाने पर गुरुजी शून्य, चार मंडलों में मुख्यमंत्री अध्यापक पुरस्कार के लिए बढ़ी तिथि

अध्यापक पुरस्कार के पैमाने पर गुरुजी शून्य, चार मंडलों में मुख्यमंत्री अध्यापक पुरस्कार के लिए बढ़ी तिथि

सूबे के 18 मंडलों में बनारस सहित चार मंडलों में ‘मुख्यमंत्री अध्यापक पुरस्कार’ के लिए योग्य शिक्षक नहीं मिल सके हैं। इसे देखते हुए शासन ने आवेदन करने की तिथि 19 अगस्त तक बढ़ा दी है। तिथि बढ़ने के साथ माध्यमिक शिक्षा विभाग वित्तविहीन स्कूलों के योग्य शिक्षकों की तलाश में जुट गया है, ताकि इस बार वाराणसी मंडल से शिक्षकों की संख्या पुरस्कार के लिए ‘शून्य’ न रहे।
शासन ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती (25 दिसंबर) पर हर मंडल से एक शिक्षक को ‘मुख्यमंत्री अध्यापक पुरस्कार’ से सम्मानित करने का निर्णय लिया है। इसके तहत चयनित शिक्षक को 25 हजार रुपये नकद व प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाना है। खास बात यह है कि राज्यस्तरीय यह पुरस्कार वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों के लिए शुरू किया गया है। वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों से 31 जुलाई तक आवेदन मांगे गए थे। पुरस्कार के लिए मंडल से सात अध्यापकों ने आवेदन भी किया था, मगर पात्रता के मानक पर एक भी शिक्षक खरे नहीं उतरे।

अध्यापक पुरस्कार के पैमाने पर गुरुजी शून्य, चार मंडलों में मुख्यमंत्री अध्यापक पुरस्कार के लिए बढ़ी तिथि Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news