09 August 2019

स्कूलों में बढ़ाया नामांकन, अब होगा सम्मान, छात्रों की संख्या घटने पर तीन बीएसए से स्पष्टीकरण तलब

स्कूलों में बढ़ाया नामांकन, अब होगा सम्मान, छात्रों की संख्या घटने पर तीन बीएसए से स्पष्टीकरण तलब

गोंडा : शासन ने परिषदीय स्कूलों में गत वर्ष से 15 फीसद अधिक छात्र नामांकन का लक्ष्य दिया था। 31 जुलाई को स्कूल चलो अभियान कार्यक्रम संपन्न होने के बाद अब निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष दाखिला कराने वाले अध्यापकों को सम्मानित करने की योजना बनाई गई है। इसको लेकर सूची तैयार कराई जा रही है। ब्लॉकवार खंड शिक्षा अधिकारियों से स्कूलों में छात्रों के दाखिले से जुड़ी सूचना मांगी गई है। इसमें लक्ष्य हासिल करने वाले अध्यापकों को डीएम से प्रशस्ति पत्र दिलाया जाएगा।
बेसिक शिक्षा विभाग 3137 प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों का संचालन करा रहा है। यहां गत वर्ष 3.36 लाख छात्रों का दाखिला था। इस शिक्षा सत्र में सरकार ने परिषदीय स्कूलों में अधिक छात्र नामांकन के आदेश दिए थे। इसके लिए फरवरी से ही बच्चों की तलाश प्रारंभ कर दी गई थी। अध्यापकों को गांव-गांव भ्रमण कर हाउस होल्ड सर्वे करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। चिह्नित बच्चों का एक अप्रैल से नए सत्र में दाखिला कराना था। एक से 31 जुलाई तक अभियान शुरू चलाया गया। अब समीक्षा की बारी है। जिन स्कूलों में बच्चों के नामांकन का निर्धारित लक्ष्य पूरा हो चुका है, वहां तैनात प्रधानाध्यापक, अध्यापक, शिक्षामित्र व अनुदेशक को सम्मानित किया जाएगा। बेसिक शिक्षा अधिकारी मनिराम सिंह ने बताया कि बीईओ से नामांकन की रिपोर्ट मांगी गई है। डीएम से शिक्षकों को सम्मानित कराया जाएगा।

संसू, गोंडा : परिषदीय स्कूलों में छात्र संख्या बढ़ाने के आदेश थे लेकिन, यहां मामला उल्टा हो गया है। शिक्षा सत्र के चार माह बाद की गई समीक्षा में देवीपाटन मंडल के तीन जिलों में 54640 छात्र नामांकन कम पाया गया है। मंडलायुक्त के सख्त रुख के बाद अब विभागीय अफसर हरकत में आ गए हैं। सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक ने गोंडा समेत तीन जिलों के बीएसए से स्पष्टीकरण तलब किया गया है।
शासन ने गत वर्ष से 15 फीसद अधिक छात्र नामांकन का लक्ष्य रखा था लेकिन, संख्या कम हो गई है। आंकड़े पर गौर करें तो गोंडा में गत वर्ष तीन लाख 43 हजार 653 छात्र पंजीकृत थे। इस बार यह संख्या घटकर तीन लाख 30 हजार 912 हो गई है। 12 हजार 741 छात्र कम हुए हैं। इसी तरह बलरामपुर में दो लाख 33 हजार 186 के सापेक्ष दो लाख 18 हजार 683 छात्र ही पंजीकृत हुए हैं। यही हाल बहराइच का है जहां, सबसे अधिक 27 हजार 396 छात्र घटे हैं। यहां गत शिक्षा सत्र में चार लाख 61 हजार 903 से घटकर छात्र संख्या चार लाख 34 हजार 507 पर पहुंच गई है। परिषदीय स्कूलों में छात्र नामांकन कम होने पर आयुक्त ने कड़ी आपत्ति जताई थी। देवीपाटन मंडल के सहायक शिक्षा निदेशक (एडी) बेसिक विनय मोहन वन ने बताया कि गोंडा, बलरामपुर, बहराइच के बेसिक शिक्षा अधिकारी से स्पष्टीकरण तलब किया है। लक्ष्य के सापेक्ष नामांकन करने के निर्देश दिए गए हैं। लापरवाही बरतने पर जिम्मेदारी तय की जाएगी।

स्कूलों में बढ़ाया नामांकन, अब होगा सम्मान, छात्रों की संख्या घटने पर तीन बीएसए से स्पष्टीकरण तलब Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news