10 August 2019

मैथ के टीचर मुङो बहुत मारते हैं इसलिए आत्महत्या कर रहा हूं, मैं हनी क्लास टीचर और मैनेजर से परेशान होकर मर रहा हूं।

मैथ के टीचर मुङो बहुत मारते हैं इसलिए आत्महत्या कर रहा हूं, मैं हनी क्लास टीचर और मैनेजर से परेशान होकर मर रहा हूं।

इटावा : ‘मैं हनी क्लास टीचर और मैनेजर से परेशान होकर मर रहा हूं। मिस्टर संदीप सर से मैं बहुत परेशान हो गया हूं। मुङो मैथ नहीं आती तो वह मुङो बहुत मारते हैं। इसलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं।’ यह सुसाइड नोट लिखकर कक्षा आठ के छात्र ने सल्फास खाकर जान दे दी।
ग्राम निलोई निवासी मुकेश कुमार शाक्य मैनपुरी के एक प्राइवेट स्कूल में शिक्षक हैं। दो बेटों में बड़ा 11 वर्षीय मयंक उर्फ हनी गांव में ही दादा-दादी के पास रहकर जसवंतनगर स्थित ब्राइटेंड पब्लिक स्कूल में पढ़ता था। गुरुवार को स्कूल से घर आने के बाद शाम को उसने सल्फास खा ली। चाचा अवनीश कुमार को मामले की जानकारी हुई तो आननफानन उसे निजी अस्पताल ले गए, जहां से देर रात सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी ले जाया गया। शुक्रवार सुबह उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। कमरे में मिले सुसाइड नोट में स्कूल के गणित शिक्षक संदीप कुमार व प्रबंधक सुरेंद्र धनगर पर परेशान करने का आरोप लगाया गया है। छात्र के चाचा ने बताया कि वह कहां से सल्फास लेकर आया, इसका पता नहीं है। पिता ने बताया कि गुरुवार शाम को ही पुलिस को तहरीर व सुसाइड नोट की कॉपी दे दी गई थी। इस संबंध में स्कूल के प्रबंधक सुरेंद्र धनगर ने बताया कि छात्र की कोई शिकायत थी तो उसके माता-पिता को उन्हें बताना चाहिए था। उनके संज्ञान में मामला नहीं था। उन्हें जानबूझकर फंसाया जा रहा है। वहीं, शिक्षक संदीप कुमार का कहना है कि उनके द्वारा कोई मारपीट नहीं की गई है। प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार सिंह ने बताया कि परिजनों की ओर से सौंपे गए सुसाइड नोट समेत मामले की पड़ताल की जा रही है।

मैथ के टीचर मुङो बहुत मारते हैं इसलिए आत्महत्या कर रहा हूं, मैं हनी क्लास टीचर और मैनेजर से परेशान होकर मर रहा हूं। Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news