13 February 2019

69000 SHIKSHAK BHARTI कट ऑफ प्रकरण पर आज की हाईकोर्ट की अपडेट लीग़ल टीम लखनऊ के द्वारा

69000 SHIKSHAK BHARTI कट ऑफ प्रकरण पर आज की हाईकोर्ट की अपडेट लीग़ल टीम लखनऊ के द्वारा


दोस्तों नमस्कार

आज सुनवाई 11:30 बजे शुरू हुई जिसमें विपक्षी *सीनियर अधिवक्ता डॉ ए पी मिश्रा* जी  कंटिन्यू करते हुए बहस की शुरुआत की जिसमें उन्होंने एनसीटीई को आधार बनाते हुए शिक्षक भर्ती 69000 में पासिंग मार्क का विरोध किया और कोर्ट को बताया की शिक्षामित्र सरकार द्वारा की गई पात्रता परीक्षा पास है और सुप्रीम कोर्ट द्वारा इनको वेटज नियमावली 1972 में दिया गया है डॉक्टर ए पी मिश्रा जी ने कोर्ट को गुमराह करने के लिए हाई स्कूल इंटर ग्रेजुएशन बीटीसी आदि सभी को आधार बनाते हुए भारांक मुद्दे से कनेक्ट कर दिया बाद में धीरे-धीरे B.Ed के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और कोर्ट को बताया की B.Ed को 6 माह का ब्रिज कोर्स कराने के पश्चात ही नौकरी दी जा सकती है कोर्ट को इतना गुमराह किया भी की भर्ती 19 वें संशोधन  से हो रही है कंटिन्यू ढाई घंटे बहस करते हुए सुप्रीम कोर्ट के विभिन्न  आर्डर  जैसे  *#प्रेमचंद्र, #तेज_प्रकाश_पाठक* *#सुभाष_चंद्र_मारवा* आज सभी ऑर्डर का जिक्र करते हुए अपना सबमिशन पूरा दिया

👉 उसके बाद विपक्ष के ही एक और वकील 5 मिनट के लिए आए और अपनी बात कह कर चले गए

👉 अब सरकार के सीनियर_अधिवक्ता_प्रशांत_चंद्रा_सर* ने जैसे ही अपना पक्ष रखना शुरू किया और कोर्ट को बताया कि विपक्ष ने कोर्ट को किस तरीके से गुमराह किया है जिस पर जज साहब ने कहा ठीक है हम आपको 2 दिन का समय देते हैं आप हमको साक्ष्य दें

👉 उसके बाद *#टॉप_मोस्ट_सीनियर_अधिवक्ता_अनिल_तिवारी_सर* का नंबर आया तिवारी सर ने कोर्ट को बताया कि विपक्ष ने किस तरीके से कोर्ट को गुमराह किया और सर ने सुप्रीम कोर्ट के एक आर्डर का हवाला देते हुए कोर्ट को बताया की 60%65% के नीचे के अभ्यार्थियों से बेसिक में पढ़ाना सही नहीं क्योंकि जब तक बच्चों की न्यू मजबूत नहीं होगी तब तक बिल्डिंग नहीं बन सकती जिस पर जज साहब सहमत दिखे और हमारे तरफ के वकीलों को 2 दिन का समय दिया गया

उसके बाद विपक्ष के तरफ के *#अधिवक्ता_हिमांशु_राधव* सर का नंबर आया जिन्होंने 5 मिनट में अपना सबमिशन पूरा कर दिया

विपक्ष के सभी वकीलों की बहस पूरी हो गई है

अब बात करते हैं कि कुछ लोग कह रहे हैं कि बहुत लंबी डेट मिल गई तो उनको बता दूं कि विपक्ष ने जिस तरीके से कोर्ट को गुमराह किया है अगर उसका साक्ष्य नहीं दिया गया तब समस्या हो सकती है अपनी टीम पर भरोसा रखें


लखनऊ लीग़ल टीम विकास वर्मा, सर्वेश प्रताप सिंह, राघवेंद्र सोमवंशी, दीपक सिंह और सुनील कुमार सदैव आप सभी के साथ है।

69000 SHIKSHAK BHARTI कट ऑफ प्रकरण पर आज की हाईकोर्ट की अपडेट लीग़ल टीम लखनऊ के द्वारा Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news