शनिवार, 14 जुलाई 2018

भदोही में 219 लेखपाल बर्खास्त 51 निलंबित

भदोही में 219 लेखपाल बर्खास्त 51 निलंबित

मुख्यमंत्री के सख्त तेवर के बाद अब लेखपालों पर कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने परिवीक्षाधीन 219 लेखपालों को बर्खास्त कर दिया है जबकि संगठन के जिलाध्यक्ष सहित 51 को निलंबित करने की संस्तुति की गई है। 1 बर्खास्त लेखपालों को किसी भी प्रकार का सरकारी लाभ अनुमन्य नहीं होगा। वे भविष्य में किसी भी सरकारी सेवा के लिए योग्य भी नहीं रहेंगे। उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के बैनर तले तीनों तहसीलों में लेखपाल चार जुलाई से ही कार्य बहिष्कार संग धरना दे रहे हैं। पहले ही दिन राज्य सरकार ने राजस्व लेखपालों की हड़ताल को छह महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया था। मुख्यमंत्री के तल्ख तेवर के बाद अपर मुख्य सचिव चंचल कुमार तिवारी ने हड़ताल करने वाले लेखपालों के खिलाफ एस्मा के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। 1जिलाधिकारी ने लेखपालों को नोटिस जारी कर काम पर लौटने की चेतावनी दी थी। इसके बाद भी वह हड़ताल पर रहे। इससे जाति, आय और निवास प्रमाणपत्र जारी नहीं हो रहे हैं। 1एडीएम रामसिंह वर्मा ने बताया कि परिवीक्षाधीन 219 लेखपालों को बर्खास्त कर दिया गया है जबकि संगठन के जिलाध्यक्ष अवधेश तिवारी के अलावा रमाशंकर यादव, मुरलीधर, ओमकार, फूलचंद पाठक, राजेश ¨बद, अमरेश दुबे और प्रियानंद श्रीवास्तव को निलंबित किया गया है।जागरण संवाददाता ज्ञानपुर (भदोही): मुख्यमंत्री के सख्त तेवर के बाद अब लेखपालों पर कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने परिवीक्षाधीन 219 लेखपालों को बर्खास्त कर दिया है जबकि संगठन के जिलाध्यक्ष सहित 51 को निलंबित करने की संस्तुति की गई है। 1 बर्खास्त लेखपालों को किसी भी प्रकार का सरकारी लाभ अनुमन्य नहीं होगा। वे भविष्य में किसी भी सरकारी सेवा के लिए योग्य भी नहीं रहेंगे। उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के बैनर तले तीनों तहसीलों में लेखपाल चार जुलाई से ही कार्य बहिष्कार संग धरना दे रहे हैं। पहले ही दिन राज्य सरकार ने राजस्व लेखपालों की हड़ताल को छह महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया था। मुख्यमंत्री के तल्ख तेवर के बाद अपर मुख्य सचिव चंचल कुमार तिवारी ने हड़ताल करने वाले लेखपालों के खिलाफ एस्मा के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। 1जिलाधिकारी ने लेखपालों को नोटिस जारी कर काम पर लौटने की चेतावनी दी थी। इसके बाद भी वह हड़ताल पर रहे। इससे जाति, आय और निवास प्रमाणपत्र जारी नहीं हो रहे हैं। 1एडीएम रामसिंह वर्मा ने बताया कि परिवीक्षाधीन 219 लेखपालों को बर्खास्त कर दिया गया है जबकि संगठन के जिलाध्यक्ष अवधेश तिवारी के अलावा रमाशंकर यादव, मुरलीधर, ओमकार, फूलचंद पाठक, राजेश ¨बद, अमरेश दुबे और प्रियानंद श्रीवास्तव को निलंबित किया गया है।

भदोही में 219 लेखपाल बर्खास्त 51 निलंबित Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news