GOOGLE SEARCH

गुरुवार, 17 मई 2018

सरकारी प्राइमरी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए 2500 उत्कृष्ट स्कूलों का बनेगा डाटाबेस विभागीय वेबसाइट पर होगा प्रदर्शन

सरकारी प्राइमरी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए 2500 उत्कृष्ट स्कूलों का बनेगा डाटाबेस विभागीय वेबसाइट पर होगा प्रदर्शन


विभागीय वेबसाइट पर होगा प्रदर्शन

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

सरकारी प्राइमरी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए श्रेष्ठ स्कूलों का प्रदर्शन विभागीय वेबसाइट पर नियमित रूप से किया जाएगा। इसके लिए पूरे प्रदेश से उत्कृष्ट स्कूलों की सूची मांगी गई है। ऐसे 2500 स्कूलों का डाटाबेस तैयार करने की योजना है।

दरअसल बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह ने पढ़ाई की गुणवत्ता सुधारने के लिए यह नई पहल दिसंबर 2017 में की थी। इसमें माह का स्कूल, प्रतिभाशाली छात्र, माह का उत्कृष्ट कार्मिक जैसे स्लॉट वेबसाइट पर बनाए गए थे लेकिन ये पहल अधिकारियों के लचर ढर्रे का शिकार बन गई। दिसंबर, जनवरी और अप्रैल में ही माह का उत्कृष्ट विद्यालय का प्रदर्शन इस वेबसाइट पर किया गया। वहीं बाकी स्लॉट में प्रतिभाग करने के लिए जिलों से संपर्क भी नहीं किया गया।

अब विभाग इस पहल को गंभीरता से ले रहा है। सभी जिलों से ऐसे विद्यालयों की सूची मांगी गई है जो उत्कृष्ट विद्यालयों के मानकों पर खरे उतरते हों मसलन नामांकन बढ़ गया हो, या स्मार्ट क्लास हो, साफ सुथरा और हरा भरा परिसर हो आदि। लखनऊ, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, आगरा, एटा, हाथरस समेत लगभग ढाई दर्जन जिलों ने ऐसे स्कूलों की सूची फोटो समेत भेज दी है। बचे हुए जिलों को भी जल्द सूची भेजने के आदेश हैं।

सरकारी प्राइमरी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए 2500 उत्कृष्ट स्कूलों का बनेगा डाटाबेस विभागीय वेबसाइट पर होगा प्रदर्शन Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news