GOOGLE SEARCH

सोमवार, 16 अप्रैल 2018

स्कूल बैग की खरीद के लिए आदेश ही नहीं दिया, 7 जिलों के बीएसए से

स्कूल बैग की खरीद के लिए आदेश ही नहीं दिया, 7 जिलों के बीएसए से

शैक्षिक सत्र शुरू हुए 15 दिन बीत गए हैं लेकिन अभी तक डेढ़ दर्जन से ज्यादा ऐसे जिले हैं जिन्होंने बच्चों को स्कूल बैग देने के लिए कोशिश ही नहीं शुरू की है। इस संबंध में बेसिक शिक्षा विभाग ने बीएसए को तुरंत जूता खरीदने के लिए प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिया है। सरकारी प्राइमरी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को राज्य सरकार अपने मद से निशुल्क स्कूल बैग देती है। राज्य सरकार ने तय किया है कि हर वर्ष स्कूल बैग नहीं बांटे जाएंगे बल्कि एक वर्ष छोड़ कर दिए जाएंगे। इस वर्ष केवल नए नामांकन वाले बच्चों को ही बैग दिया जाएगा। लेकिन बीते वर्ष सहायता प्राप्त स्कूलों में स्कूल बैग नहीं बांटे जा सके। लिहाजा इस वर्ष नए नामांकन वाले और सहायता प्राप्त स्कूलों के बच्चों को स्कूल बैग दिया जाएगा। लगभग 60 लाख बच्चों को इस वर्ष बैग दिया जाना है। बीस जिलों के बीएसए ने अभी तक क्रयादेश जारी नहीं किया है। इनमें गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर, कासगंज, मुरादाबाद, रामपुर, संभल, बिजनौर, बदायूं, सहारनपुर, औरैया, फरुखाबाद, जालौन, महोबा, उन्नाव आदि शामिल हैं।

7 जिलों के बीएसए से मांगा गया स्पष्टीकरण
बीते दिनों बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह ने विभागीय योजनाओं की समीक्षा के लिए वीडियो कांफ्रेसिंग की लेकिन इनमें सात जिलों के बीएसए शामिल नहीं हुए। इन बीएसए की अनुपस्थिति पर अब विभाग ने 16 अप्रैल तक स्पष्टीकरण मांगा है। ये जिले हैं कौशाम्बी, वाराणसी, रामपुर, ललितपुर, बांदा, अमेठी और औरैया।

स्कूल बैग की खरीद के लिए आदेश ही नहीं दिया, 7 जिलों के बीएसए से Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news