GOOGLE SEARCH

शनिवार, 10 मार्च 2018

68500 shikshk bharti: शिक्षकों की भर्ती परीक्षा स्थगित,सरकार को लगा तगड़ा झटका, स्पेशल अपील में राहत न मिलने से सरकार ने किया फैसला

68500 shikshk bharti:  शिक्षकों की भर्ती परीक्षा स्थगित,सरकार को लगा तगड़ा झटका, स्पेशल अपील में राहत न मिलने से सरकार ने किया फैसला

 उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) 2017 का परिणाम नए सिरे से घोषित करने के एकल पीठ के निर्देश के खिलाफ इलाहाबाद हाईकोर्ट में स्पेशल अपील दाखिल करने वाली राज्य सरकार को अदालत से कोई तात्कालिक राहत नहीं मिली है। लिहाजा सरकार ने परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 68,500 शिक्षकों की भर्ती के लिए 12 मार्च को होने वाली लिखित भर्ती परीक्षा को स्थगित करने का फैसला किया है। सचिव बेसिक शिक्षा मनीषा त्रिघाटिया ने इसका आदेश भी जारी कर दिया है। 1हाईकोर्ट की एकल पीठ ने यूपीटीईटी-2017 के रिजल्ट को संशोधित करने का निर्देश दिया था। यूपीटीईटी-2017 में उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थियों को सोमवार को होने वाली शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल होना था। इसे देखते हुए यूपीटीईटी-2017 का रिजल्ट नए सिरे से जारी किये बिना भर्ती परीक्षा आयोजित कर पाना मुश्किल था। इसलिए सरकार ने निर्णय को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट में स्पेशल अपील दाखिल की थी।
अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा राज प्रताप सिंह ने कहा कि ‘फिलहाल एकल पीठ के निर्देश से सरकार को कोई राहत नहीं मिल पाई है। इसलिए 12 मार्च को होने वाली शिक्षक भर्ती परीक्षा को अगले आदेशों तक स्थगित करने का फैसला किया गया है।



68500 shikshk bharti: शिक्षकों की भर्ती परीक्षा स्थगित,सरकार को लगा तगड़ा झटका, स्पेशल अपील में राहत न मिलने से सरकार ने किया फैसला Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news