रविवार, 15 अप्रैल 2018

योगी सरकार में शिक्षक भर्तियों के मामले में लेटलतीफी के टूट गए सारे रिकॉर्ड

योगी सरकार में शिक्षक भर्तियों के मामले में लेटलतीफी के टूट गए सारे रिकॉर्ड

योगी सरकार पर भर्तियों में देरी करने की गूंज कई माह से सुनाई पड़ रही है। वहीं, माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र में भर्तियों की तस्वीर आरोपों के बिल्कुल उलट है, जो भर्तियां बसपा और सपा शासनकाल में घोषित हुईं वह अब तक पूरी नहीं हो सकी हैं। 12720 पदों की भर्तियां जितने वर्षो से अटकीं हैं, उससे अधिक चयन बोर्ड के अध्यक्ष बदल चुके हैं। भर्तियों के जो प्रकरण न्यायालय तक पहुंचे उनकी ठीक से पैरवी करके स्टे खारिज तक कराने के प्रयास नहीं हुए। 1चयन बोर्ड की लंबित भर्तियों में पहला विज्ञापन 27 जून, 2011 को जारी हुआ। इसमें प्रधानाचार्य, प्रवक्ता व प्रशिक्षित स्नातक के पदों पर नियुक्तियां होनी थी। इसमें संस्था प्रधान का कानपुर मंडल का साक्षात्कार होना शेष है, बाकी मंडलों का रिजल्ट घोषित करने पर कोर्ट ने रोक लगाकर रखी है। 1प्रवक्ता पद की लिखित परीक्षा लंबे समय बाद हुई। उसमें से मनोविज्ञान, वनस्पति विज्ञान, नागरिक शास्त्र, हंिदूी, वाणिज्य व इतिहास का परीक्षा परिणाम जारी हुआ है और 15 विषयों का रिजल्ट घोषित होना शेष है। प्रशिक्षित स्नातक में हंिदूी, संस्कृत, विज्ञान विषय की लिखित परीक्षा का परिणाम जारी व 11 विषयों का रिजल्ट आना शेष है। इसके बाद साक्षात्कार होंगे। 1इसी तरह से 2013 की भर्ती का विज्ञापन 31 दिसंबर, 2013 को जारी हुआ। इसमें से प्रवक्ता इतिहास व सिलाई का परिणाम आना शेष है, प्रशिक्षित स्नातक का चयन हो चुका है, जबकि संस्था प्रधान पदों का साक्षात्कार अभी नहीं हो सका है। 2016 की भर्ती का विज्ञापन पांच जून, 2016 को जारी हुआ। 1लिखित परीक्षा होना शेष1प्रशिक्षित स्नातक व प्रवक्ता पद की लिखित परीक्षा होना शेष है। यही नहीं, सपा शासनकाल में राजकीय कालेजों की एलटी ग्रेड भर्ती का विज्ञापन 2016 में जरूर जारी हुआ लेकिन, अब उसकी भर्ती प्रक्रिया आगे बढ़ सकी है।
बसपा व सपा सरकार के आठ चयन बोर्ड अध्यक्ष पूरा नहीं करा सके
12720 पदों पर नियुक्तियों का सात वर्ष से प्रतियोगियों को इंतजार
ये रहे चयन बोर्ड के अध्यक्ष
डा. आरपी वर्मा, धनंजय गुप्ता (कार्यवाहक), प्रोफेसर देवकी नंदन शर्मा, आशाराम यादव (कार्यवाहक), डा. परशुराम पाल, अनीता यादव (कार्यवाहक), सनिल कुमार और पूर्व आइएएस हीरालाल गुप्ता।

यह भर्तियां वर्षो से लंबित
वर्ष 2011
प्रधानाचार्य - 955
प्रशिक्षित स्नातक - 1479
प्रवक्ता - 393
वर्ष 2013
प्रधानाचार्य - 599
प्रवक्ता - इतिहास व सिलाई व परिणाम आना शेष है।
वर्ष 2016
प्रशिक्षित स्नातक - 7950
प्रवक्ता - 1344


योगी सरकार में शिक्षक भर्तियों के मामले में लेटलतीफी के टूट गए सारे रिकॉर्ड Rating: 4.5 Diposkan Oleh: news